वन अधिकार पत्रक के कार्य प्रो-एक्टिव होकर करें- कलेक्टर

0

गरियाबंद

कलेक्टर श्री निलेशकुमार क्षीरसागर ने आज अधिकारियों की समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कहा कि सभी अनुविभागीय दण्डाधिकारी वन अधिकार के निरस्त प्रकरणों पर सुनवाई संबंधी सभी कार्य प्रो-एक्टिव होकर करें। उन्होंने शासन की प्राथमिकता के इस कार्य की जिले में अद्यतन प्रगति पर असंतोष व्यक्त करते हुए अधिकारियों को कार्य मिशनमोड में करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने ग्रामीणों की मूलभुत सुविधाओं से जुड़े कार्य, नदी-नालों में पुल-पुलियांे के निर्माण अथवा मरम्मत की जानकारी निर्माण कार्य एजेन्सी विभागों और संबंधित जनपद सी.ई.ओ से उपलब्ध कराने कहा।

उन्होंने सभी जनपद सी.ई.ओ को स्वीकृत नये गौठान निर्माण कार्य में प्रगति लाने तथा गौठानों में गोबर खरीदी व वर्मी कमपोस्ट बनाने के कार्य प्रारंभ कराने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने अवगत कराया कि जिले के सभी विकासखंड में शासकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल खुलेंगे। उन्होंने चिन्हित स्कूलों में सभी आवश्यक तैयारियां हेतु शिक्षा विभाग के अधिकारियांे को निर्देशित किया। कलेक्टर ने कहा कि सभी विभाग में स्वीकृत बजट लेप्स न होने पाये अधिकारी शासन के निर्देशों का पालन करते हुए बजट का उपयोग करना सुनिश्चित करें।

बैठक में वनमण्डलाधिकारी श्री अग्रवाल ने जिले में आगामी मानसून सत्र में पौधरोपण की तैयारी, स्थान चिन्हांकित कर अभी से कार्य योजना प्रस्तावित करने कहा। उन्होंने जिले में हाथियों के दल की मौजूदगी की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए विद्युत विभाग के कार्यपालन अभियंता को हाथियों के विचरण क्षेत्र में बिजली के खम्भें व लाईन व्यवस्था पर विशेष ध्यान देने कहा। बैठक में जिला पंचायत के सी.ई.ओ श्री चन्द्रकांत वर्मा, अपर कलेक्टर श्री जे.आर. चैरसिया, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती ऋषा ठाकुर सहित समस्त विभाग के जिला प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।