एक सप्ताह से पहाडी गांव में डेरा डाले हूए है हाथियो का दल ,ग्रामीणो में भारी दहशत

0

वन अफसर लगातार ले रहे है जायजा, फसल नुकसान का किसानो को दिया जाएगा मुआवजा

उदंती सीतानदी टाईगर रिजर्व के बफर जोन एरिया एंव कुल्हाडीघाट वन परिक्षेत्र के पहाडी के उपर बसे ग्राम कुकराल में लगभग पिछले एक सप्ताह से 20 – 25 जंगली हाथियों का दल लगातार आंतक मचा रखा

शेख हसन

मैनपुर

उदंती सीतानदी टाईगर रिजर्व के बफर जोन एरिया एंव कुल्हाडीघाट वन परिक्षेत्र के पहाडी के उपर बसे ग्राम कुकराल में लगभग पिछले एक सप्ताह से 20 – 25 जंगली हाथियों का दल लगातार आंतक मचा रखा है और ग्राम कुकराल हथोडा , आमामोरा के आसपास लगभग 30 किसानो के 70 एकड धान दलहन तिलहन के फसलो को जमकर नुकसान पहुचाया है और तो और ये हाथियो का दल आज बुधवार को कक्ष क्रमांक 889 एवं 886 के आसपास लगातार मंडरा रहे है साथ ही बांस के जंगल को बुरी तरह नुकसान पहुचा रहे है

लगभग दो दर्जन के आसपास बडी संख्या में पहली बार हाथियांे का दल यहा ठहरा हुआ है और इनके चिंघाड से आसपास के ग्राम दहल रहा है ग्रामीण अपने दैनिक उपयोग के सामग्री व जलाऊ लकडी तक लाने जंगल के तरफ नही जा पा रहे है और खेतो की रखवाली करना छोड दिए है वही फसल क्षति की जानकारी ग्रामीणो द्वारा वन प्रशासन को देने पर वन विभाग के अफसर भी कुकराल , आमामोरा , हथोडा पहुचकर फसल क्षति की आंकलन कर मुआवजा प्रकरण बनाकर भेजा गया है साथ ही वन अफसरो का कहना है कि जिन भी किसानो के फसल नुकसान हुए है उन्हे जल्द ही मुआवजा की राशि दिया जाएगा और लगातार जंगली हाथियों के सभी गतिविधियो पर वन विभाग द्वारा नजर बनाए रखने का दावा किया जा रहा है

साथ ही केयर टेªकर व वन विभाग के स्थानीय कर्मचारियो के अमला को पुरी तरह मुस्तैद कर दिया गया है जो गांव गांव मुनादी करवाकर लोगो को जंगल के तरफ अकेलें नही जाने की अपील कर रहे है। ग्रामीण सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यहा हाथियों का दल ओडिसा प्रदेश के सोनाबेडा क्षेत्र से दिपावली पर्व के आसपास पहुचा है और यह हाथियों का दल पहले फरसरा , दबनई, लुठापारा ग्राम के पास देखा गया था

धीरे धीरे हाथियो का दल पहाडी के उपर पहुचा है और पिछले एक सप्ताह से बांस के जंगल में डेरा जमाए हुए है काफी महत्वपूर्ण बात यह है कि हाथियो के दल मे दो शावक भी बताए जा रहे है और हाथियो के जानकार बताते है जिस हाथियो के दल मे मादा के साथ अगर शावक होता है तो वह दल काफी आक्रमक होता है क्योंकि अपने बच्चे की सुरक्षा को लेकर हाथियो के दल काफी संवेदनशील रहते है जिसके चलते जिसके चलते वन विभाग की चिंता बढ गई है, दो दिन पहले वन विभाग के एसडीओ पी आर धु्रव स्वंय दल बल के साथ पहचे थे और फसल क्षति की जानकारी लिए थे आज वन परिक्षेत्र अधिकारी कुल्हाडीघाट सुदर्शन नेताम फिर एक बार कुकराल पहुचकर वहा के ग्रामीणो से चर्चा किया साथ ही ग्रामीणों को जल्द ही फसल क्षति की मुआवजा दिलवाने का आश्वासन दिया है

मैनपुर में पत्रकारो से चर्चा करते हूए वन परिक्षेत्र अधिकारी कुल्हाडीघाट सुदर्शन नेताम ने बताया कि पिछले एक सप्ताह से हाथियो का दल कक्ष क्रमांक 886, 889 एंव 832 के आसपास डेरा डाले हूए है और किसानो के फसलो को भी नुकसान पहुचाया है किसानो को जल्द फसल की मुआवजा दिया जाएगा उन्होने आगे बताया कि वन विभाग द्वारा चार दल का गठन किया गया है जो लगातार हाथियों के दल पर नजर रखे हूए है उन्होने बताया यह हाथियो का दल ओडिसा प्रदेश से पहुचा है और 20 – 25 की संख्या में है जिसमें उनके शावक भी है, श्री नेताम ने आगे बताया कि पिछले वर्ष भी हाथियों का दल इस क्षेत्र में पहुचा था उम्मीद है जल्द ही हाथियों का दल वापस ओडिसा लौट जाएगा लगातार इसकी जानकारी उच्च अधिकारियों तक भेजी जा रही है ।