कांग्रेस के पास छत्तीसगढ़ में खोने के लिए कुछ नहीं ? पाने के लिए पूरा राज्य है: राजेश्री महंत

0

बाबू खान

पलारी

14 वर्ष की वनवास की समाप्ति के पश्चात रघुनाथ जी ने अयोध्या वापस आकर राम राज्य की स्थापना की थी छत्तीसगढ़ में भी यह अवधि पूरी हो चुकी है यहां भारतीय जनता पार्टी का राज्य चल रहा है इसके 15 वर्ष पूर्ण होने के पहले इसे विदाई देनी होगी यह बातें कांग्रेस के स्टार प्रचारक राजेश्री डॉक्टर महंत रामसुंदर दास ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से अभिव्यक्त की श्री महंत ने अपने बयान में कहा है कि पूरे छत्तीसगढ़ राज्य में परिवर्तन का बयार बह रही है

लोग एक ही शासन से अब पूरी तरह से ऊब चुके हैं और राज्य में सत्ता परिवर्तन चाहते हैं कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा- उठो, जागो और अपने अधिकार की प्राप्ति के लिए तन्मयता से भीड़ जाओ तब तक विश्राम मत करना जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाए उन्होंने कहा कि आप लोगों को हनुमान जी के इस कथन को याद रखना है जिसमें उन्होंने कहा था कि राम काज किन्हें बिनु मोहि कहां विश्राम, इन आनेफो ले 1 सप्ताह में कांग्रेस का भाग्य और छत्तीसगढ़ की तकदीर बदल सकती है

याद रखना कांग्रेस के पास यहां खोने के लिए कुछ भी नहीं और पाने के लिए छत्तीसगढ़ का राज्य है, देश को अब विदेशी ताकतें बार-बार आंखें दिखा रही है ,नक्सलवाद आतंकवाद भ्रष्टाचार सांप्रदायिकता महंगाई सब कुछ बढ़ चुका है देश के 70 साल के विकास को 5 वर्षों में तार-तार कर दिया गया है सबसे बड़ा कुठाराघात सामाजिक भाईचारे पर हुआ है अनेकता में एकता भारत की विशेषता थी लेकिन अब तो इसे भी सांप्रदायिकता का ग्रहण लग चुका है इसलिए देश और राज्य को बचाने के लिए ऊर्जावान अनुभवी नवयुवक की जरूरत है यह क्षमता भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने राहुल गांधी के नेतृत्व में हासिल कर ली है !

उन्होंने आगे कहा कि वर्तमान में देश के नौजवानों में नरेन्द्र मोदी के साख घटी है और राहुल गांधी के ऊपर लोगों का विश्वास बढ़ा है छत्तीसगढ़ और देश को क्षमतावान युवा नेतृत्व प्रदान करने की आवश्यकता है राजेश्री महंत ने भाजपा द्वारा नया छत्तीसगढ़ बनाने की कल्पना को हास्यास्पद बताया और पूछा की अब यह नया छत्तीसगढ़ बनाने जा रहे हैं तो 15 वर्षों तक कौन सा छत्तीसगढ़ बना रहे थे इसका जवाब वे स्वयं जनता को दें !