निर्वाचन में अपनी भूमिका निभाएं – मुख्य निर्वाचनधिकारी

0

छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने शनिवार शाम कलेक्टोरेट स्थित सभाकक्ष में विधानसभा निर्वाचन से जुड़े नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर चुनाव के तैयारियों के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने सर्विस वोटर इलेक्ट्राॅनिक ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट सिस्टम (ई.टी.पी.बी.एस.) के संबंध में जानकारी ली। जिले के तीन विधानसभा क्षेत्रों से इस बार कुल 130 सर्विस वोटर्स डाक मतपत्र के जरिये अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

श्री साहू ने कहा कि अधिकारी टीम भावना से निष्पक्ष एवं स्वतंत्र निर्वाचन में अपनी भूमिका निभाएं। उन्होंने ई.व्ही.एम. के रेण्डमाईजेशन एवं कमिशनिंग के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर महादेव कावरे ने जिले में विधानसभा निर्वाचन को निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए किए गए तैयारियों की जानकारी दी। जिले के 75 मतदान केन्द्रों की वेबकास्टिंग होगी।

बैठक में अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी डाॅ. एस.भारती दासन, संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी समीर विश्नोई,श्रीमती पद्मिनी भोई साहू,पुलिस महानिरीक्षक दीपांशु काबरा,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बेमेतरा एच.आर.मनहर,ए.डी.एम. एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी के.एस.मंडावी, जिला पंचायत के सी.ई.ओ. एस.आलोक,रिटर्निंग आफिसर नवागढ़ देवसिंह उइके, साजा- उमाशंकर साहू,ए.आर.ओ. बेमेतरा डी.एन. कश्यप एवं आर.पी. आंचला,सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री साहू ने कहा कि आदर्श आचरण संहिता का पालन करें। अधिकारी निष्पक्ष रहे, निष्पक्ष दिखे, यह निर्वाचन की सबसे महत्वपूर्ण दायित्व है। किसी प्रकार की संवेदनशील जानकारी मिलने पर वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराए। अतिरिक्त सी.ई.ओ. डाॅ. दासन ने कहा कि अभ्यर्थियों के 19 एवं 20 नवम्बर को प्रकाशित होने वाले विज्ञापनों का एम.सी.एम.सी.कमेटी से सर्टिफिकेशन कराया जाना अनिवार्य होगा।

उन्होंने कहा कि आयोग के निर्देश पर एक्जिट पोल का प्रसारण नहीं किया जायेगा। इसके अलावा बाहरी व्यक्ति जो जिले के मतदाता नहीं है वे मतदान के 48 घंटे पहले 18 नवम्बर को शाम 5 बजे के पूर्व संबंधित विधानसभा क्षेत्र से बाहर चले जायेंगे। इसका पालन करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।
पुलिस महानिरीक्षक दीपांशु काबरा ने शांतिपूर्ण निर्वाचन के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। कलेक्टर ने बताया कि दिव्यांग मतदाता वाले मतदान केन्द्रों में व्हीलचेयर की व्यवस्था कर ली गई है। जिले के मतदान केन्द्रों में आवश्यक मूलभूत सुविधाएॅ, बिजली, पानी, रैम्प, शौचालय और फर्नीचर की व्यवस्था सुनिश्चित कर ली गई है। जिले में 62 सेक्टर अधिकारी नियुक्त किए गए है एवं तीन विधानसभा क्षेत्रों के लिए 128 रूट चार्ट तैयार किया गया है।